upchar view
· Times read 41
Lifestyle

रसोई में मौजूद इन पांच चीजों को तुरंत बहार फेंक दे

रसोई में मौजूद इन पांच चीजों को तुरंत बहार फेंक दे
रसोई में मौजूद इन पांच चीजों को तुरंत बहार फेंक दे

रसोई में मौजूद इन पांचचीजों को तुरंत बहार फेंक दे

नमस्कार मेरे प्यारे दोस्तों- आज में आपको स्वास्थ्य से जुडी और आपके घरो में रसोई से समबन्ति मुख्य चीजों के बारे में बताने जा रहा हु - जी हां दोस्तों आपके घर की रसोई में मौजूद इन पांच चीजों को तुरंत बहार फेक दे - आजकल के मनुष्य को थाइराइड - कैंसर - किडनी प्रॉब्लम - बल्ड शुगर - बल्ड प्रेशर - हार्ड प्रॉब्लम जैसी बीमारिया बहुत बढ़ गई है आजकल के मनुष्य में यह सारी बीमारिया होना एक आम बात है बहुत से लोग अनेक बीमारियों के शिकार हो जाते है आपने कभी सोचा है यह सारी बीमारिया आजकल के मनुष्य को क्यों हो जाती है इन सारी बीमारियों का क्या कारण है आजकल ज्यादतर मनुष्य किसी न किसी बीमारी से पीड़ित है और बीमारी का इलाज करवाते समय वह अपने धन और समय की भारी बर्बादी करता है एक बार वह मनुष्य बीमारी से ठीक होने के बाद दुबारा बीमार पढ़ जाता है पर उस मनुष्य को यह पता नहीं चल पाता की वह बार बार बीमार क्यों हो जाता है आज में आपको रसोई में पड़ी इन पांच चीजों तुरंत बहार फेक दे या इनका इस्तेमाल बंद करदे - आज में आपको रसोई में पड़ी रासायनिक चीजों के बारे में बताने जा रहा हु चलये दोस्तों जानते है रसोई में मौजूद इन पांचचीजों को तुरंत बहार फेंक दे।

रसोई में मौजूद इन पांच चीजों को तुरंत बहार फेंक दे - Image 1

रसोई में मौजूद इन पांचचीजों को तुरंत बहार फेंक दे
नॉन स्टीक बर्तन

सबसे पहले आप अपने घर की रसोई में पड़े नॉन स्टीक बर्तन को तुरंत बहार कर दे क्योकि आजकल के शहरो के घरो में बहुत ज्यादा मात्रा में नॉन स्टीक बर्तनो का उपयोग किया जाता है इन बर्तनो पर एक केमिकल की परत चढाई जाती है उसका POLYTEFRAFLUOROTHYLENE (PTFE) कहते है इस केमिकल की परत बहुत नुकसानदायक होती है आपके शरीर में दिमाग और फेफड़ो से समबन्ति गंभीर बीमारिया फैलता है जब आप इन बर्तनो में खाना बनाते है तो केमिकल धीरे - धीरे आपके खाने में घुल जाता है आप लोग इसे टेस्ट भी कर सकते है आप लोग किसी भी नॉन स्टीक बर्तन को गैस पर रखये और पूरी तेज आग के साथ इस नॉन स्टीक बर्तन को गरम करे अव जब बर्तन पूरा गरम हो जाये तो उसमे जो गैस निकले उसे टेस्ट करे और इस गैस में आपको खतरनाक हैवी मेटल कैडमियम और मेरकरी होती है जिससे आपको कैंसर तक हो सकता है पाचन तंत्र कमजोर हो सकता है हार्ड प्रॉब्लम हो सकती है न्यूरोलॉजिकल प्रॉब्लम हो सकती है इस प्रकार मेरकरी बहुत जहरीला पर्दाथ है इसलिए नॉन स्टीक बर्तनो को तुरंत बहार फेक दे - इसकी जगह आप लोग कास्ट आयरन बर्तन का उपयोग कर सकते है कास्ट आयरन के बर्तन आपको बाजार में बड़ी आसानी से और कम कीमत पर उपलब्द है।

रसोई में मौजूद इन पांच चीजों को तुरंत बहार फेंक दे - Image 2

एल्युमीनियम के बर्तन

आजकल के घरो में एल्युमीनियम से बने बर्तनो का उपयोगबहुत ज्यादा मात्रा में किया जाता है क्योकि एल्युमीनियम सस्ता होता है इसका रखरखाव भी आसान होता है और इस संसार में एल्युमीनियम का उपयोग बहुत ज्यादा किया जाता है पुराने समय में भारतीयों लोगो को बंद जेलों में खाना एल्युमीनियम के बर्तनो में दिया जाता था क्योकि ऐसा माना जाता था की एल्युमीनियम एक धीमा जहर है एल्युमीनियम के बर्तन आपके किडनी को ख़राब करते है आपके फेफड़ो को ख़राब कर सकते है और आपको अल्ज़्हेलनेर और पर्किन्सो जैसे खतरनाक बीमारिया हो सकती है क्योकि खाना बनाने पर एल्युमीनियम घुल कर आपके खाने में मिक्स हो जाता है एल्युमीनियम को टेस्ट करने लिए बाजार से एल्युमीनियम बर्तन खरीद कर लाये और एलुमिनियम के बर्तन का वजन करवा ले और 3 से 4 साल बाद एल्युमीनियम के बर्तन का दुबारा वजन करे - एल्युमीनियम के बर्तन का वजन में भारी कमी देखने को मिलेगी - ऐसा इसलिए हुआ क्योकि एल्युमीनियम के बर्तन खाना बनाया जाता है एल्युमीनियम घुलकर आपके खाने में चला जाता है इस कारण बर्तन का वजन कम हो जाता है एल्युमीनियम के बर्तन की जगह आप लोग स्टेनलेस स्टील के बर्तन का उपयोग कर सकते है।


एल्युमीनियम फॉयल

पुराने समय के लोग रोटी बनाकर या रोटी बनने के बाद उसको सूती कपडे से लपेटते थे पर आजकल के लोग रोटी को लपटने के लिए एल्युमीनियम फॉयल का उपयोग करते है आजकल हर तरह के खाने को लपेटने के लिए एल्युमीनियम फॉयल का उपयोग किया जाता है एल्युमीनियम फॉयल मानव शरीर के लिए बहुत ही नुकसान दायक है स्वास्थ्य संगठन के अनुसार एक स्वस्थ शरीर में एल्युमीनियम की मात्रा 50 mg होती है इससे अधिक एल्युमीनियम की मात्रा हमारे शरीर के लिए नुकसानदायक होती है जब भी आपका खाना एल्युमीनियम फॉयल के संपर्क में आता है तो 2 से 4 mg एल्युमीनियम आपके खाने में चला जाता है जब भी आप रोटी को एल्युमीनियम फॉयल में पैक करेंगे तो एल्युमीनियम फॉयल आपके खाने से आपके शरीर में चला जायेगा - एल्युमीनियम खाना में बहुत जल्दी मिक्स हो जाता है आपको लगता है हम लोग हैल्थी खाना खा रहे है पर असल में हम लोग जहर खा रहे होते है एल्युमीनियम की मात्रा आपके शरीर में ज्यादा होने से खाने में मौजूद जिंक प्राप्त नहीं कर पाता है जिसके कारण आपके शरीर में जिंक की कमी हो जाती है जिंक आपके दिमाग के लिए अच्छा होता है जिंक आपकी हड्डिया को मजबूत करता है रोटी को एल्युमीनियम फॉयल में पैक नहीं करना चाहिए बल्कि सूती कपडे का उपयोग करना चाहिए।

रसोई में मौजूद इन पांच चीजों को तुरंत बहार फेंक दे - Image 3

पलास्टिक के डिब्बे और बोतल

आपकी रसोई में ज्यादातर चीजे पलास्टिक की हो गई है हम लोग आजकल पलास्टिक के बोतल में पानी पीते है और पलास्टिक के डिब्बों में मिर्च - मसाला - दालरखते है मिर्च - मसाले को पलास्टिक के डिब्बों में पैक करके रखते है लेकिन शायद आपको यह मालूम नहीं है की पलास्टिक की वजह से आपके शरीर को कितना नुकसान हो रहा है पलास्टिक को बनाने के लिये BIS PHENOL(BPA) के रसायन का उपयोग किया जाता है पलास्टिक बनाने वाली कम्पनिया झूट बोलकर अपने सामान को बेचने के लिए पलास्टिक के डिब्बों पर BPA मुफत लिख देते है सामान को बनाने के लिए BPA केमिकल का उपयोग किया जाता है पलास्टिक बनाने के लिए एक ओर केमिकल उपयोग किया जाता है उसका नाम है BPS - यह भी नुकसान दायक रहता है यह केमिकल आपके शरीर में हार्मोन्स को बनने से रोकता है माँ बनने से रोकता है थाइराइड की बीमारी को बढ़ाता है जन्म होने वाले बच्चे की बोतल में भी यही केमिकल पाया जाता है पलास्टिक की जगह आप लोग कांच के डिब्बे का उपयोग कर सकते है यह स्टील की बोतल का उपयोग कर सकते है।

रिफाइंड आयल

रिफाइंड आयल भी आपके सेहत के लिए बहुत बुरा होता है इसे अपने रसोई से तुरंत बहार कर दे - कुदरती आयल में कोई न कोई खुशबू - कोई न कोई सुवाद - कोई न कोई रंग जरूर होता है लेकिन कम्पनिया रिफाइंड करने के लिए प्रकर्तिक तेल के अंदर केमिकल डाल देती है जैसे HEXANOL की वजह से आपको उल्टी और दस्त हो सकती है चक्कर आ सकते है इस तेल के लगातार उपयोग से आपका नर्वस सिस्टम ख़राब हो सकता है रियाइंड आयल में केमिकल के उपयोग से सारी प्रकर्तिक गुण नष्ट हो जाते है इसकी जगह आप सरसो के तेल का उपयोग कर सकते है सरसो का तेल कोलेस्ट्रॉल को कम करता है।


मेरे प्यारे दोस्तों में आप सबका दोस्त पंकज कुमावत - मेरी पोस्ट अगर आपको अच्छी लगी हो तो प्लीज लाइक और शेयर करें - हमने सिर्फ ज्ञानवर्धक जानकारी साझा की है। किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श जरूर ले। सदैव खुश रहे और फिट रहे।

Did you like this article?

0 0
You need an account to vote on this article. Create a new account over here
HEALTH TIPS FOR UPCHAR VIEW.


Do you want to write blogs?

Create a free account to start writing blogs immediatly.

Sign up now!
Or login to your account
Login
Do you want to read blogs?

Subscribe to our newsletter to read the best blogs Nobedad has to offer.


Related articles

Comments
You need an account to comment on this article. Create a new account over here.
There are no comments yet..