upchar view
· Times read 141
Lifestyle

कोलेस्ट्रोल बढ़ने के कारण - लक्षण व बचाव के बारे में जानें

कोलेस्ट्रोल बढ़ने के कारण - लक्षण व बचाव के बारे में जानें 2019

आज में आपको आपके ह्रदय से जुड़ी एक ऐसी बीमारी के बारे में बताने जा रहा हु जो आपके लिए बहुत ही उपयोगी सिद्ध होगी - उस बीमारी का नाम कोलेस्ट्रोल, जी हा दोस्तों मनुष्य शरीर के लिए बहुत ही आवश्यक है कोलेस्ट्रोल, पर लिमिट से ज्यादा कोलेस्ट्रोल हमेशा नुकसान दायक रहता है कोलेस्ट्रोल आपके शरीर में चर्बीयुक्त एक तत्व है जो आपके शरीर को फिट रखने के लिए अतिआवश्यक तत्व है कोलेस्ट्रोल का मुख्य रूप से कार्य हार्मोन्स और स्नायुओ के विकास के लिए होता है कोलेस्ट्रोल शब्द मुख्य रूप से लैटिन भाषा से है जिसका अर्थ है कोले अर्थात पीत और स्ट्रोल का अर्थ बेकार का कोलेस्ट्रोल है एक्स्ट्रा कोलेस्ट्रोल हमेशा शरीर के लिए नुकसानदायक रहता है और यह हमारी शरीर की रक्तवाहनियों की साइज को मोटी कर देता है जिसके कारण महिला - पुरुष में हार्ड प्रॉब्लम होती है।

कोलेस्ट्रोल बढ़ने के कारण - लक्षण व बचाव के बारे में जानें 2019
कोलेस्ट्रोल के प्रकार
कोलेस्ट्रोल मुख्य रूप से पांच प्रकार के होते है।
  1. टोटल कोलेस्ट्रोल
  2. HDL कोलेस्ट्रोल ( उच्च घनता वसा )
  3. LDL कोलेस्ट्रोल ( निम्न घनता वसा )
  4. TG कोलेस्ट्रोल ( ड्राइग्लिसराइड )
  5. VLDL कोलेस्ट्रोल ( निम्नतम घनता वसा )
HDL कोलेस्ट्रोल ( उच्च घनता वसा )

उच्च कोलेस्ट्रोल ह्रदय रोग को रोकने के लिए हमारे शरीर में HDL कोलेस्ट्रोल LDL कोलेस्ट्रोल को कम करता है।


LDL कोलेस्ट्रोल ( निम्न घनता वसा )


LDL कोलेस्ट्रोल आपकी रक्तवाहिन्यो के अंदर चर्बी का जमाव करता है ह्रदय रोगो को बढ़ावा देता है इसलिए आपका HDL कोलेस्ट्रोल मुख्य रूप से आपके शरीर में ज्यादा होना चाहिये।



कोलेस्ट्रोल बढ़ने के कारण - लक्षण व बचाव के बारे में जानें 2019


कोलेस्ट्रोल को कैसे नियंत्रित करे
  1. अधिकतर लोग आहार - दवा - व्यायाम करके अपने आप को कोलेस्ट्रोल से फिट रह सकते है
  2. फल - सब्जियों - दाले - हररोज भरपूर मात्रा में खाये।
  3. हरी सब्जिया का उपयोग अधिक मात्रा में करे।
  4. मक्खन - मांस - मछली -आदि चीजों को कम करे।
  5. सूरजमुखी - मूंगफली आदि तेल का उपयोग कम करे और नारियल के तेल का उपयोग बिलकुल भी न करे।
  6. गर्म दूद की मलाई निकालकर दूद पिये।
  7. छाछ और दही का इस्तेमाल ज्यादा करे।
  8. आप हररोज योगा -स्विमिंग - जिम करे।
  9. हररोज सुबह - शाम आधा घंटा दौड़ करे।
  10. कुछ कोलेस्ट्रोल का बढ़ना जेनेटिक कारण हो सकता है।
कोलेस्ट्रोल क्या है

कोलेस्ट्रोल एक प्रकार की चर्बी है जो हर समय मनुष्य के रक्त में बहती है।


ज्यादा कोलेस्ट्रोल के लक्षण
  1. वजन ज्यादा होना।
  2. उम्र का ज्यादा होना।
  3. सीने में भारीपन।
  4. सीने में तेज दर्द का होना।
  5. सांस फूलना या थकान महसूस होना।
  6. काम करते समय चेहरे पर पसीना ज्यादा आना।
  7. पारिवारिक या जेनेटिक कारण।
कोलेस्ट्रोल के लिए मुख्य रूप से जांच
  1. LIPID PROFILE ( कम्पलीट कोलेस्ट्रोल की जांच )
  2. CBC (कम्प्लीट बल्ड काउंट - कोलेस्ट्रोल के साथ करवा ले )


कोलेस्ट्रोल बढ़ने के कारण - लक्षण व बचाव के बारे में जानें 2019


कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित करने की सामान्य मूल्य
  1. टोटल कोलेस्ट्रोल -
  2. ( नार्मल ) - 200mg /dl
  3. ( नार्मल से ज्यादा ) - 200 -230mg /dl
  4. सबसे ज्यादा - 250mg/dl
  5. HDL कोलेस्ट्रोल -
  6. ( नार्मल रिस्क ) - 55mg /dl
  7. ( नार्मल से ज्यादा ) - 35 -55mg /dl
  8. सबसे ज्यादा- 35mg /dl
  9. ट्रिग्लीसेरिड्स -
  10. ( नार्मल ) - 170mg/dl
  11. बॉर्डरलाइन - 170 -400mg/dl
  12. ( नार्मल से ज्यादा ) - 400 -1000mg/dl
  13. सबसे ज्यादा - 1000mg /dl से ज्यादा
  14. LDL कोलेस्ट्रोल -
  15. ( नार्मल ) - 100mg/dl
  16. बॉर्डरलाइन -130 -160mg/dl
  17. ज्यादा - 160 - 190mg /dl
  18. सबसे ज्यादा - 190mg/dl से ज्यादा
  19. VLDL कोलेस्ट्रोल
  20. ( नार्मल ) - 60mg/dl
Did you like this article?

0 0
You need an account to vote on this article. Create a new account over here
HEALTH TIPS FOR UPCHAR VIEW.


Do you want to write blogs?

Create a free account to start writing blogs immediatly.

Sign up now!
Or login to your account
Login
Do you want to read blogs?

Subscribe to our newsletter to read the best blogs Nobedad has to offer.


Related articles

Comments
You need an account to comment on this article. Create a new account over here.
There are no comments yet..